पूर्णिया के डॉ वीरेश कुमार सात सौ लोगों का घुटना ठीक कर चुके हैं.

-के डॉ वीरेश कुमार सात-सौ-लोगों-का-घुटना-ठीक-कर-चुके-हैं.

पूर्णिया शहर के पॉलिटेक्निक चौक के पास गोविन्द मेटाबोलिक हॉस्पिटल साल दर साल इतिहास रचता जा रहा है. चिकित्सा रत्न अवार्ड से सम्मानित डॉ वीरेश कुमार लगातार सफलतापूर्वक आर्थराइटिस से पीड़ित मरीजों को घुटनों के दर्द से मुक्ति दिला रहे हैं. अब तक के रिकॉर्ड के मुताबिक डॉ वीरेश कुमार सात सौ से अधिक मरीजों को बिना ऑपरेशन घुटनों के आर्थराइटिस से मुक्ति दिला चुके हैं.

इस सम्बन्ध में खुद डॉ. कुमार का कहना है कि घुटनों के दर्द की परेशानी से पीड़ित मरीजों का कार्टिलेज ख़त्म हो जाने के बाद उन्हें प्रायः ऑपरेशन के द्वारा कृत्रिम घुटना लगाने को कहा जाता है. ऑपरेशन के द्वारा घुटना बदलवाने की प्रक्रिया महँगी होने के साथ-साथ जोखिम भरी होती है. ऑपरेशन के बाद आपका घुटना ठीक से काम करेगा और यह आपको कोई कष्ट नहीं देगा, इस बात की कोई गारंटी नहीं होती है.

डॉ वीरेश कुमार लगातार सफलतापूर्वक आर्थराइटिस से पीड़ित मरीजों को घुटनों के दर्द से मुक्ति दिला रहे हैं.
डॉ वीरेश कुमार सुगिया देवी के अलावा सात सौ लोगों का घुटना ठीक कर चुके हैं.

आप जानते हैं कि मेडिकल साइंस में घिसे हुए घुटनों का कार्टिलेज ख़त्म हो जाने के बाद फिर से कार्टिलेज का निर्माण संभव नहीं था. पूर्णिया के लाइन बाज़ार में कई सर्जन घुटनों का ऑपरेशन करके प्रतिदिन लाखों रुपये कमाते थे. लेकिन एम. सी. जी. टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से डॉ वीरेश कुमार अब बिना ऑपरेशन के मरीजों का घुटना कम खर्च में ही ठीक कर देते हैं.  डॉ वीरेश कुमार के द्वारा खोजी गई मेटाबोलिक कार्टिलेज जनरेशन तकनीक (एम. सी. जी. टेक्नोलॉजी) घुटनों में कार्टिलेज का रिजेनेरेशन कर देती है.

डॉ वीरेश कुमार ने किया सुगिया देवी के घुटना का सफल उपचार

सुगिया देवी दस वर्षों से भी अधिक समय से घुटनों में दर्द की परेशानी से पीड़ित थी. डॉ वीरेश कुमार के डेढ़ महीने के उपचार के बाद उनका घुटना अब ठीक हो चुका है. अब वो पहले की तरह खुद से चल-फिर सकती है. इतनी पुरानी बिमारी से मुक्ति पाकर सुगिया देवी फूले न समा रही है. सबूत के तौर पर आप भी सुगिया देवी का विडियो फेसबुक पर देखें. उनका इंटरव्यू हमने यूट्यूब पर भी अपलोड किया है.

Summary
पूर्णिया के डॉ वीरेश कुमार सात सौ लोगों का घुटना ठीक कर चुके हैं.
Article Name
पूर्णिया के डॉ वीरेश कुमार सात सौ लोगों का घुटना ठीक कर चुके हैं.
Description
सुगिया देवी दस वर्षों से भी अधिक समय से घुटनों में दर्द की परेशानी से पीड़ित थी. डॉ वीरेश कुमार के डेढ़ महीने के उपचार के बाद उनका घुटना अब ठीक हो चुका है.
Author
Publisher Name
Thinking Is A Job
Publisher Logo

आपकी क्या राय है? लिखने में संकोच न करें.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.